राष्ट्रियसंस्‍कृतसंस्‍थानस्‍य संस्‍कृतप्रशिक्षणकक्ष्‍या - Learn Sanskritam (Video 14)

 

  मित्राणि
राष्ट्रियसंस्‍कृतसंस्‍थानेन प्रकाशितचलचित्रेषु प्रशिक्षणकक्ष्‍याया: एतत् चतुर्दशमं चलचित्रम् अस्ति ।  दृष्‍ट्वा अभ्‍यासं कुर्वन्‍तु  ।  पश्‍यन्‍तु, पठन्‍तु, संस्‍कृतज्ञा: भवन्‍तु च ।
 

संस्‍कृतजगत्



टिप्पणियाँ

  1. Sunder Ati Sunder .

    जैसे आंख में मोतियाबिंद हो जाता है या नज़र कमज़ोर हो जाती है ऐसे ही अक्ल भी अंधी और कमज़ोर हो जाया करती है और तब अक्ल सही फ़ैसले नहीं ले पाती। आज ऐसी अक्ल के लोग ही हर जगह नेता और मार्गदर्शक बने हुए हैं।
    ‘ब्लॉगर्स मीट वीकली 3‘

    उत्तर देंहटाएं

एक टिप्पणी भेजें

अपने सुझाव, समाधान, प्रश्‍न अथवा टिप्‍पणी pramukh@sanskritjagat.com ईसंकेत पर भेजें ।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

गम् (जाना) धातु: - परस्‍मैपदी

अव्यय पदानि ।।

समासस्‍य भेदा: उदाहरणानि परिभाषा: च - Classification of Samas and its examples .

दृश् (पश्य्) (देखना) धातुः – परस्मैपदी

फलानि ।।