July, 2016 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

पाठ: (11) तृतीया विभक्ति (3) + अयादि सन्धि ।।

(सह, साकम्, सार्धम्, समम् के साथ तृतीया विभक्ति होती है) नक्षत्रेण सह चन…

पाठ: (10)तृतीया विभक्ति (2) ।।

{कर्मवाच्य (पॅसिव्ह व्हाइस) में कर्त्ता में तृतीया विभक्ति, कर्म में प्…

पाठ: (9)तृतीया विभक्ति (1) + यण सन्धिः ।।

{ करण कारक (क्रिया सम्पन्न करने का साधन) में तृतीया विभक्ति होती है ।} म…

पाठ: (8)द्वितीया विभक्तिः (5) + अनुस्वार संधिः ||

(गत्यर्थक, ज्ञानार्थक, भक्षणार्थक, शब्दकर्मार्थक एवं अकर्मक धातुओं के अण…

पाठ (7)द्वितीया विभक्तिः ||

(अधि + शीङ्, अधि + स्था, अधि + आस्, अधि + वस्, आङ् + वस्, अनु + वस्, उप …

पाठ (6)द्वितीया विभक्तिः (द्विकर्मक धातुएं) ||

(द्विकर्मक धातुएं) 1. दुह् अजापालः अजां दुग्धं दोग्…

पाठ (5)द्वितीया विभक्तिः

कर्त्तृवाच्य ( एक्टिव वॉइस ) में कर्म (= क्रिया की नि…

ज़्यादा पोस्ट लोड करें कोई परिणाम नहीं मिला