May, 2017 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

श्‍चुत्‍वसन्धि: - उदाहरणम् ।।

अवधेयम् - स् + श् = श् स् + चवर्ग = श् तवर्ग + श् = चवर्ग तवर्ग + चव…

श्‍चुत्‍वसन्धि: - व्‍यंजनसन्धि: ।।

स्‍तो: श्‍चुना श्‍चु: ।।     स् तथा तवर्ग स्‍य ( त, थ, द, ध, न ) पुरत:…

व्‍यंजनसन्धि: ।।

द्वयो: शब्‍दयो: मध्‍ये यदा द्वयो: व्‍यंजनयो: माध्‍यमेन सन्धि: भवति, शब्…

पूर्वरूपसंधि: - स्‍वरसन्धि: ।।

एड.: पदान्‍तादति ।। पदस्‍य (सुबन्‍तं, तिड.न्‍तं च) अन्तिमवर्ण: यदि '…

यदा किंचिज्‍ज्ञोSहंद्विप इव मदान्‍ध: समभवम् - नीतिशतकम् ।।

यदा किंचिज्‍ज्ञोSहंद्विप इव मदान्‍ध: समभवं  तदासर्वज्ञोSस्‍मीत्‍यभवदवल…

संस्‍कृतजगत् शोध-पत्रिका (संस्‍करणम् अप्रैल-मई 2017) प्रकाशन-सूचना

महानुभावा: संस्‍कृतजगत् शोधपत्रिकाया: अप्रैल-मई 2017 संस्‍करणस्‍य प्रका…

विधेर्विचित्राणि विचेष्टितानि - नीति: ।

श्‍लोक: -  य: सुन्‍दरस्‍तद्वनिता कुरूपा ।        या सुन्‍दरी सा पतिरूप…

ज़्यादा पोस्ट लोड करें कोई परिणाम नहीं मिला